Bada Ganpati Mandir, Indore

भगवान गणेश जी की आराधना किए बिना जीवन में कोई मांगलिक कार्य नहीं हो सकता है।
इंदौर के ऐसे प्राचीन मंदिर में जहां मौजूद भगवान गणेश की प्रतिमा ना केवल इंदौर में न केवल मध्यप्रदेश में न केवल भारत में बल्कि समूचे एशिया में सबसे बड़ी सबसे वजनदार मूर्ति है। यहाँ पता चलता है कि भगवान गणेश हमारे साथ मौजूद है इंदौर के पर्यटन आकर्षण में धार्मिक स्थल है इंदौर का बड़ा गणपति मंदिर।

बड़ा गणपति मंदिर

हिंदू मान्यताओं के अनुसार भगवान श्री गणेश सभी देवों में प्रथम पूज्यनीय है सबसे पहले पूजे जाने वाले मंगलमूर्ति श्री गणेश का यह मंदिर हिंदुओं की आस्था की पहचान बन गया है।

यह विशाल गणेश प्रतिमा सीमेंट की नहीं वरन ईंट, चूने, रेत और बालू रेत में गुड़ व मैथीदाने का मसाला मिलाकर बनाई गई है। इसमें समस्त तीर्थों का जल और अयोध्या, मथुरा, माया, काशी, काँची, उज्जैन और द्वारका इन सात मोक्षपुरियों की माटी मिलाई गई। निर्माण लगभग ढाई वर्ष में पूर्ण हुआ।

संवत 1961 माघ सुदी चतुर्थी (संकष्टी) को मूर्ति का प्राण प्रतिष्ठा की गई। मूर्ति की ऊँचाई चरणों से मुकुट तक 25 फुट और चौड़ाई 16 फुट है। मूर्ति चार फुट ऊँची चौकी पर विराजमान है। इस मूर्ति के दर्शन करने देश-विदेश से लोग आते हैं। गणेश चतुर्थी पर तो इस मंदिर में खासी भीड़ देखी जा सकती है। दिलों को सुकून देने वाली यह गणेश प्रतिमा सभी की चिंताओं का हरण करके लोगों को सुख‍ी और समृद्ध बनाती है।

विश्व की सबसे ऊँची और विशाल गणेश प्रतिमा के बतौर बड़े गणपति की ख्याति है। शहर के पश्चिम क्षेत्र में मल्हारगंज के आखिरी छोर पर ये गणेश विराजमान हैं। इन्हें उज्जैन के चिंतामण गणेश की प्रेरणा से नारायण दाधीच ने 120 वर्ष पूर्व बनवाया था।

श्री गणेश के इस अनन्य भक्त को 16 साल की आयु में स्वप्न में विराट गणेश के दर्शन हुए और वह मनोहारी विराट रूप उनके मन में बस गया और एक धुन लग गई उसे साकार करने की।

इसी साधना के सिद्धि की उम्मीद लिए नारायणजी हर बुधवार को उज्जैन से चार किलोमीटर दूर पैदल चलकर चिंतामण गणेश जाकर भगवान से याचना करते रहे। उन्हें इंदौर आना पड़ा जहाँ उनका यह स्वप्न साकार हुआ। बोंदरजी पटेल ने सौ वर्गफुट भूमि की रजिस्ट्री 42 रुपए 2 आने में करवा दी।

Savandurga Trek

Savandurga Trek

JSMay 5, 20221 min read

The Savandurga trek is considered to be among the largest monolith hills in Asia. It is located 60 km away from Bengaluru in the Savandurga state forest, this trail is famous for its challenging climb and amazing views of Magadi,…

Best Tourist Places in Panna

Best Tourist Places in Panna

JSApr 24, 20224 min read

Overview Panna famous for the name ‘The City of Diamonds’ is situated between the picturesque mountain ranges of Vindhyanchal, the northeast part of Madhya Pradesh. The current form of the Panna district is in combination with Panna and Ajaygarh State,…

Bade Baba Temple, Kundalpur

Bade Baba Temple, Kundalpur

JSApr 21, 20222 min read

Overview Kundalpur is a historical pilgrimage site for Jainism in India. It is located at Kundalgiri, Kundalpur, Damoh district, Madhya Pradesh, 35 km from the city of Damoh. Kundalpur has a statue of Bade Baba (Adinath) in sitting (Padmasana) posture.…

Kundeshwar Temple, Tikamgarh

Kundeshwar Temple, Tikamgarh

JSMay 21, 20221 min read

Overview Kundeshwar Temple of Lord Shiva is situated on the bank of the Jamdar river in the Tikamgarh district of Madhya Pradesh. It is said that God appeared here in the form of Pindi. This temple is one of the…

कालियादेह महल, उज्जैन

कालियादेह महल, उज्जैन

Shivdeep SinghApr 11, 20221 min read

कालियादेह महल यह एक प्रतिष्ठित ऐतिहासिक स्थानों में से एक है, इसका निर्माण 15वीं शताब्दी में मांडू के सुल्तान ने करवाया था। यह शिप्रा नदी के बीच एक द्वीप पर बना हुआ है माना जाता है पिंडारियों के हाथो बर्बाद…

Leave a Comment

Your email address will not be published.